स्वागतम

खुद के भीतर विद्यमान रूपी प्रकाश को पहचाने….

योग मुद्रा में मानव शरीर om

अंधकार को कोसने से अच्छा है कि एक दीपक जला दिया जाये…

 

अंधकार को कोसने से अच्छा है कि एक दीपक जला दिया जाये, और ज्ञान ही एक ऐसा दीप है जो अज्ञानता रूपी अंधकार को हमेशा के लिए खत्म कर सकता है। शिक्षा के साथ साथ सूचना के जगत को भी नहीं नकारा जा सकता है, इसी सोच के साथ ‘दैनिक अयोध्या टाइम्स’ का प्रकाशन 2 मार्च 2015 से प्रारम्भ किया गया, सामाजिक समस्या का पक्षधर यह समाचार पत्र तब से अनवरत सुचारू रूप से निर्भीक व बेबाक खबरों के साथ सामाजिक न्याय, शांति, सहचर्य और विश्व कल्याण का बीड़ा उठाये आपके समक्ष सशक्त संचार के माध्यम के रूप में प्रस्तुत है। समाज के बदलते परिवेश और जन चेतना को देखते हुए हमने 2017 से अपने को इंटरनेट जैसे सशक्त माध्यम से जोड़ा इस कार्य के लिए DAT News की टीम का धन्यवाद। फैजाबाद, फतेहपुर, बांदा, कानपुर देहात, मैनपुरी जनपदों में भी ब्यूरो कार्यालय स्थापित किए गये है । वहाँ के उत्साह जनक परिणाम के लिए स्थानीय ब्यूरो चीफ एवं कर्म साधना को समर्पित संवाददाता बधाई के पात्र है।
दैनिक अयोध्या टाइम्स का प्रयास है कि समाज मे व्याप्त असमानतायें, कुरीतियां, भेदभाव को समाप्त करने के साथ जन-जन तक हर प्रकार के समाचार पहंुचाना स्वच्छ पत्रकारिता के नये आयाम गढ़ने को आपकी सेवा में समर्पित है। समाज को आगे ले जाने के लिए और नई पीढ़ी के विकास के लिए नये-नये शोध और लेख आपको सदैव मिलते रहेंगे।
दैनिक अयोध्या टाइम्स परिवार के अथक प्रयासो से प्रज्जवलित यह समाचार पत्र रूपी मशाल निश्चित रूप से अपने लक्ष्य को प्राप्त करेगी ऐसा मेरा विश्वास है । पाठको के सुझाव ही हमारी सफलता है।
जिला/प्रदेश/देश जहां तक हमारी आवाज पहुँच सकती है या हम पहुँच सकते हैं हम सब जगह बुराइयों से लड़ेंगे और समाज को एक नई दिशा प्रदान कर नये आयाम स्थापित करेंगे।
सभी ब्युरो प्रमुखो, कर्मनिष्ठ एव निष्पक्ष पत्रकारिता के प्रहरी संवाददाताओं, सुधी पाठकों को नूतन वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ।

                              सादर सस्नेह !

 बृजेश मौर्या

प्रधान संपादक
मो. 9918523251
E-mail: dainikayodhyatimes2@gmail.com

Website : dainikayodhyatimes.in