बिजली के बिल की चिनता गुल सोलर एसी से कर्मी में होंगे घर कूल

अमरोहा अमेठी अम्बेडकर नगर अयोध्या टाइम्स परिवार अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ उड़ीसा उत्तर प्रदेश कानपुर नगर राष्ट्रीय

बड़े काम का है ये नए अवतार का AC, जितनी ज्यादा गर्मी उतना ज्यादा करेगा कूल… बिजली का बिल जाएंगे भूल।

सोलर एसी में वे सभीी गुण विद्यमान हैै जो बिजली एसी में होते हैं. जैसे ऑटो स्टार्ट, टर्बो कूल मोड, ड्राई मोड, स्लीप मोड, ऑन-ऑफ टाइमर, ऑटो क्लीन, स्पीड सेटिंग, लवर स्टेप एडजस्ट और रिमोट पर ग्लो बटन।

सोलर एसी Solar-AC IMG hod

संवाददाता हरिओम- गर्मी तेजी हो रही है. मॉनसून आने में अभी समय है. उससे पहले बेहद गर्मी पड़ रही है. ऐसे में एयर कंडीशनर (AC) की मांग तेजी से बढ़ रही है. बाजार में एक से एक ब्रांड के एसी मिल रहे हैं. कुछ कम तो कुछ ज्यादा कीमत वाले. लेकिन सवाल बिजली बिल का है. पैसे जुटाकर एसी खरीद लें, लेकिन हर महीने की बिजली बिल की चिंता नहीं है. इसे देखते हुए एसी के विकल्पों पर लोग गौर कर रहे हैं. इसी में एक विकल्प है सोलर एसी. जी हां, नाम से स्पष्ट है कि इसे सोलर पैनल से चलाया जा सकेगा. इससे बिजली बिल बचेगा.

सोलर एयर कंडीशनर (solar air conditioner) को सोलर एसी भी कहते हैं. यह सोलर पावर पर चलने वाला एसी है जिसे हाइब्रिड सोलर एयर कंडीशनर कहा जाता है. हाइब्रिड इसलिए कहते हैं क्योंकि यह सोलप पावर के साथ बिजली पर भी चलता है. कभी धूप न हो तो बिजली का सहारा लेकर इसे चला सकते हैं. यह खास तरह का एसी बैटरी पैक पर भी चलता है जो सोलर पावर से चार्ज होता रहता है. जब सोलर पावर खत्म हो जाए तो बैटरी पैक की मदद से एसी चला सकते हैं.

तीन मोड पर चला सकते हैं
इस एसी में खास बात 5 स्टार रेटिंग है. यानी कि सोलर पावर और बिजली की खपत बहुत कम करता है. सोलर पैनल सहित यह एसी बहुत की किफायती दर पर बेचा जा रहा है. इसका काम बिजली से चलने वाले एसी की तरह ही है. यह ठंडा भी उतना ही करता है, जितना बिजली पर चलने वाले एसी. बस पावर मोड का फर्क है. यह पूरी तरह से सोलर आधारित ऊर्जा पर चलता है. बिजली पर चलने वाले एसी केवल इलेक्ट्रिसिटी ग्रिड से चलते हैं, जबकि हाइब्रिड एसी एक साथ तीन माध्यमों से चलता है. पहला, सोलर पावर, दूसरा सोलर बैटरी बैंक और तीसरा इलेक्ट्रिसिटी ग्रिड.

कीमत की बात करें तो 1 टन स्पलिट सोलर एयर कंडीशनर की कीमत 99000 रुपये है. वहीं 1.5 टन सोलर एसी का दाम 139000 है जिसमें सोलर पैनल, सोलर इनवर्टर और उससे जुड़े सभी सामान मिलते हैं. आइए इसकी खासियत के बारे में जानते हैं-

प्राथमिकता के आधार पर यह एसी पहले सोलर पावर पर चलेगा
इसी दौरान एसी से लगा सोलर पैनल सोलर बैटरी बैंक को चार्ज करेगा
जब धूप न हो तो सोलर बैटरी बैंक का इस्तेमाल कर सकते हैं. कभी-कभी धूप तेज न होने पर भी सोलप पैनल से बिजली पैदा नहीं होती. ऐसे में बैटरी बैंक काम आएगा
अगर एसी का काम बैटरी बैंक से नहीं चल पा रहा है. यानी कि बैटरी बैंक भी चार्ज न हो तो एसी अपने आप बिजली से चलने लगेगा
जून 2021 की अपडेट लिस्ट के मुताबिक अभी दो रेंज में सोलर एसी आ रहे हैं. एक 99000 में और दूसरा 139000 में. पहली श्रेणी का एसी 1500 वाट बिजली की खपत करता है. जबकि दूसरी श्रेणी का एसी 2500 वाट बिजली की खपत करता है. अगर आपके रूम का साइज 80-120 वर्ग फुट है तो 1 टन का एसी खरीद सकते हैं. 1 टन के एसी में कई खासियतें विशेषताएं होती हैं. अगर 1 टन का एसी लगाना है तो उसकी विशेषताएं जरूर जान लेनी चाहिए. इस तरह के एसी की वारंटी 5 साल की है और सोलर पैनल 25 साल की वारंटी के साथ मिल रहे हैं. ठीक ऐसी ही विशेषताएं 1.5 टन एसी की भी है.

कहां लगाएं सोलर एसी
सोलर एसी उन इलाकों के लिए बेहतह है जहां का मौसम गर्म और नमी वाला हो. जिन इलाकों में बिजली कम मिलती है या हमेशा बिजली जाने की समस्या होती है, वहां सोलर एसी लगाना सही होगा. सोलर एसी जब चलता है तो वह ग्रिड इलेक्ट्रिसिटी की बचत करता है. इससे ग्रिड पर दबाव कम होता है. साथ ही कस्टमर को बिजली बिल का झटका नहीं लगता. बिना पैसे में ठंडी हवाएं मिलती रहती हैं. सोलर एसी ग्रिड पावर की खपत को 100 फीसद तक कम करता है. ग्रिड पावर जीवाश्म ईंधन से तैयार होता है. ऐसे में सोलर एसी जीवाश्म ईंधन की बचत के साथ प्रदूषण घटाता है. यह एसी पूरी तरह से मोबाइल ऐप के सहारे चलता है. रिमोट का झंझट नहीं है. साथ ही इसका रखरखाव और मरम्मती का खर्च बहुत कम है.

ये हैं खास विशेषताएं
सोलर एसी में वे सभी विशेषताएं मिलती हैं जो बिजली एसी में होती हैं. जैसे ऑटो स्टार्ट, टर्बो कूल मोड, ड्राई मोड, स्लीप मोड, ऑन-ऑफ टाइमर, ऑटो क्लीन, स्पीड सेटिंग, लवर स्टेप एडजस्ट और रिमोट पर ग्लो बटन. सोलर एसी को सभी सरकारी परीक्षणों से अनुमति मिल गई है. एसी का कंप्रेसर सबसे ज्यादा बिजली खपत करता है. इसी के देखते हुए सोलर एसी में डीसी एमपीपीटी ड्राइव कंप्रेसर लगा है. यह कंप्रेसर कूलिंग और हीटिंग ऑपरेशन में बिजली की खपत कम करता है. इस एसी को सोलर बैटरी पर आराम से 4 घंटे तक चला सकते हैं. आज के दिन में वीडियोकॉन, एलजी, सैमसंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *